सोमवार, 22 नवंबर 2010

प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के विरोध में कांग्रेस का प्रदर्शन करने का निर्णय


कांकेर :- जिला कांग्रेस के द्वारा किसानों को मुआवजा व बोनस प्रदान करने, स्थानीय बेरोजगारों को शासकीय नौकरी देने एवं प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों के विरोध में 26 दिसंबर 10 को जिला मुख्यालय कांकेर में विशाल प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया हैं तथा बैठक में  नरहरपुर नगर पंचायत के संपन्न होने वाले चुनाव के संबंध में रणनीति तैयार की गई। 
जिला कांग्रेस की बैठक में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को ब्लाक स्तर पर प्रदेश सरकार के विरोध में प्रदर्शन करने 30 नवंबर तक ब्लाक में बैठक आयोजित करने के निर्देश दिये गये। किसानों की धान खरीदी सही तरीके से हो इसके लिए प्रत्येक लेम्पसवार कांग्रेस की निगरानी समिति का गठन करने का निर्णय लिया गया। सरकार के द्वारा जिले के किसानों को अतिवृष्टि के कारण हुए नुकसान का मुआवजा प्रदान करने एवं प्रति क्विंटल धान का 270 रू. बोनस देने तथा प्रदेश सरकार के द्वारा गठित बस्तर डेव्लपमेन्ट ग्रुप में लिये गये निर्णय अनुसार स्थानीय बेरोजगारों को शासकीय नौकरी प्रदान नही किये जाने पर जिला स्तरीय विशाल प्रर्दशन करने का निर्णय कांग्रेस की बैठक में लिया गया। नगर पंचायत नरहरपुर के चुनाव हेतु जिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा बसंत यादव, रामनारायण सिंहा, पार्षद रमेश गौतम एवं जिला पंचायत सदस्य थानसिंह नरेटी को पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया। 
जिला कांग्रेस की बैठक में अध्यक्ष राजेश तिवारी, पूर्व विधायक शिव नेताम, दिलीप खटवानी, जितेन्द्र सिंह ठाकुर, मनोज जैन, दिनेश जायसवाल, नरोत्तम पटेल, नरेश बिछिया, निशा मेहता, स्वर्णलता सिंह, झमित जैन, रामनारायण सिन्हा, रमेश गौतम, धर्मेन्द्र मेहता, परदेशी निषाद, तरेन्द्र भंडारी, मनराखन मरकाम, इसहाक अहमद, विजय यादव, कृष्ण कुमार अत्री, मांडवी दीक्षित, ओमप्रकाश गिड़लानी, बसंत यादव, जितेन्द्र मोटवानी, कृष्णा नायक, कैलाश खत्री, पुरषोत्तम पाटिल, चन्द्रकांत धु्रवा, कुन्दन मरकाम, रामकरण कुंजाम, बाबूलाल साहू, ज्योति साहू, सरस्वती नायर, हिम्मत स्वर्ण, नन्दकुमार देवांगन, खम्मन बैरागी आदि पदाधिकारी उपस्थित थे।

1 टिप्पणी:

  1. ब्लॉग जगत में पहली बार एक ऐसा सामुदायिक ब्लॉग जो भारत के स्वाभिमान और हिन्दू स्वाभिमान को संकल्पित है, जो देशभक्त मुसलमानों का सम्मान करता है, पर बाबर और लादेन द्वारा रचित इस्लाम की हिंसा का खुलकर विरोध करता है. जो धर्मनिरपेक्षता के नाम पर कायरता दिखाने वाले हिन्दुओ का भी विरोध करता है.
    इस ब्लॉग पर आने से हिंदुत्व का विरोध करने वाले कट्टर मुसलमान और धर्मनिरपेक्ष { कायर} हिन्दू भी परहेज करे.
    समय मिले तो इस ब्लॉग को देखकर अपने विचार अवश्य दे
    देशभक्त हिन्दू ब्लोगरो का पहला साझा मंच - हल्ला बोल
    हल्ला बोल के नियम व् शर्तें

    उत्तर देंहटाएं